Author: Mallika

सुखप्रीत के अनुभव

सुखप्रीत, जो पी॰एस॰यू॰ के साथ पांच सालों से काम कर रही है, मजदूरों के परिवार से आती है। उसके पिता, जो केवल पांचवीं कक्षा तक ही अपनी शिक्षा पूरी कर पाए थे, हमेशा सुखप्रीत को पढ़ाई के लिए प्रोत्साहित करते आए हैं कि वह जितना चाहती है

Read More »

आंदोलन की अहमियत पढ़ाई-काम से बहुत बड़ी है!

दोपहर के सूरज का सफेद प्रकाश उसके चश्मे के पीछे उसकी आंखों को छुपा रहा था। मैंने उससे एक फोटोग्राफर के रूप में पूछा यदि वह कैमरे के लिए चश्मा हटाना पसंद करेगी। उन्नीस वर्षीय कमल मुस्कुराती हुई अनिच्छा से कहती है “वो तो मेरी पहचान है ना”।

Read More »
pa_INPunjabi