Author: Harishankar Mandia

तपतपाती धूप,आँधी तूफ़ान के बीच नई ऊर्जा से सराबोर शाहजहांपुर मोर्चा

पिछले 13 दिसंबर से लगातार मैं शाहजहांपुर खेड़ा बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में शामिल होकर नज़दीक से किसान आंदोलन की ताकत को महसूस कर रहा हूँ, कई उतार चढ़ाव आये, कई बार ऐसा लगा कि अब यह आंदोलन टूटकर बिखर जाएगा पर अगले ही पल मैंने इस आंदोलन को एक नई ऊर्जा के साथ खड़े होते देखा है।

Read More »
en_GBEnglish